27/12/2010

मेरी एक छोटी सी कोशिश.... ब्लांग परिवार....Blog parivaar

आप सब को मेरा नमस्कार, सलाम, सतश्री अकाल ओर जो जो वाक्या स्वागत मे कहे जाते हे, वो सब मेरी ओर से जोड ले,बहुत समय से देख रहा हुं कि  साथी लोग ऎग्रीगेट्र की बाते कर रहे हे, कोशिश कोई नही कर रहा, कोई पेसो की बात करता हे तो कोई रुठे हुयो को मना रहा हे, लेकिन इतने समय से कुछ खास नही हुआ,अब बेठे बेठे मेरे दिमाग मै एक विचार आया कि क्यो ना मे ही इस काम का बीडा ऊठा लूं, वेसे तो मुझे पता हे कि यह काम मेरे अकेले के बस का नही, लेकिन जब तक हम मे से कोई पहला कदम नही बढायेगा तब तक कुछ नही हो पायेगा.

मेरे साथ जुडने के लिये मुझे की साथियो की जरुरत पडेगी, इस लिये जो भी मेरे साथ इस काम मे जुडना चाहे, टिपण्णी मे बता दे, ओर जो इस ब्लांग रुपी ऎग्रीगेट्र मे अपना नाम दर्ज करवाना चाहते हे, इस ब्लांग परिवार मे शामिल होना चाहते हे, वो झट से टिपण्णी मे अपनी इच्छा बताये ओर हमारे साथ जुडे, ओर इस ब्लांग का लिंक अपने ब्लांग पर लगा दे, जहां आप को सब की नयी नयी पोस्टो का पता मुफ़त मे चलता रहे गा, ओर आप की पोस्ट का भी पता दुसरो को लग जायेगा.

अगर आप सिर्फ़ अपना ब्लांग ही यहा देना चाहते हे तो भी आप का स्वागत हे , टिपण्णी मे अपनी इच्छा ओर अपने ब्लांग का URL अपनी टिपण्णी के संग दे दे, चाहे जितने भी आप के ब्लांग हो, ओर अगर आप मेरे साथ हाथ बटाना चाहते हे, तो भी टिपण्णी मे इच्छा जाहिर करे, या मुझे मेल करे, ओर अपना ई मेल मुझे भेज दे, सब का स्वागत हे.

लेकिन एक शर्त भी हे इस काम चलाऊ ऎग्रीगेट्र पर अगर कोई ऎसी भाषा वाला ब्लांग प्रकाशित होता हे जिस के बार मे बाद मे पता चले तो उसे उसी समय हटा दिया जायेगा,बिना किसी नोटिस के, क्योकि यह ऎग्रीगेट्र उन ब्लांगो के लिये हे जिन्हे पुरा परिवार पढता हे, इस लिये सेक्स ओर ऎसी ही अन्य बातो के लिए कृप्या मेम्बर ना बने,चाहे अपने धर्म का प्रचार चाहे करे, लेकिन एक दुसरे के धर्म को जिन ब्लांग पर नीचा दिखाया जायेगा, उन्हे भी हटा दिया जायेगा.

यह ब्लांग परिवार  एक परिवार की तरह से ही हे, जिस मे हर तरह के लोग हे, जिस मे बुजुर्ग भी हे जवान भी बच्चे भी नर भी नारियां भी, अच्छे भी बुरे भी, समझाने वाले भी, लडाने वाले भी, प्यार करने वाले भी, नफ़रत करने वाले भी...... इस लिये जेसे हम अपने परिवार मे मिल कर रहते हे वेसे ही हम सब यहां मिल कर ही रहेगे, लडगे भी, उलझेगे भी, एक दुसरे से बहसेगे भी लेकिन फ़िर भी प्यार रखेगे, 

इस काम चलाऊ ऎग्रीगेट्र मे तीन कालम हे जिन मे आप सब के ब्लांग दिखाई देगे, ओर पोस्ट की जगह, इस ब्लांग के मेम्बरो के लिये खाली रहेगे, जहां चर्चा , गजल, कहानियां, कविताऎं ओर आप सब की रचनाऎं समय समय पर प्रकाशित की जाये गी, नयी नयी सुचनाये, ब्लांग सम्मेलन , ब्लांग मिलन की सुचनाये, रिपोर्ट बगेरा बगेरा....... तो  आईये ओर जुडे हमारे इस ब्लांग परिवार से आप सब का इंतजार हे, स्वागत हे, मेम्बर बने, ब्लांग के या अपना ब्लांग जोडे सब के लिये आप का स्वागत हे

89 टिपण्णियां:

मनोज कुमार said...

राज जी बहुत अच्छा प्रयास है। मुझे आपका साथी होना मंज़ूर है।
ब्लॉग्स तो मेरे आपको पता ही है। फिर भी लिंक्स दे रहा हूं
http://manojiofs.blogspot.com/
http://raj-bhasha-hindi.blogspot.com/
http://testmanojiofs.blogspot.com/

'उदय' said...

... saraahneey kadam ... mere blog par bahut kuchh teekhaa-teekhaa rahataa hai yadi aapko koi asahajataa mahsoos na ho to mere blog ko jod sakte hain, mujhe khushee hogee yadi nahee bhee jodaa jaataa hai to bhee mujhe koi dukh nahee hogaa ... naye prayog ke liye badhaai va shubhakaamanaayen !!!

केवल राम said...

आदरणीय राज भाटिया जी
नमस्कार
चलो आपके कारवां मैं हम भी शामिल हो जाएँ ...एक नयी दुनिया सजाएं ..... हम भी अर्पित करते हैं दो पुष्प इस रूप में कबूल कर लेना .......!
http://mohallachalte-chalte.blogspot.com/
http://mohalladharmordarshan.blogspot.com/

anshumala said...

राज भाटिया जी

बहुत अच्छा काम किया कब तक दूसरो की राह तकते | मेरा ब्लॉग भी जोड़ ले अपने परिवार में |



http://mangopeople-anshu.blogspot.com/

Kajal Kumar said...

नेकी और पूछ-पूछ ! लो जी, मेरा ब्लाग भी जोड़ दो.
http://kajalkumarcartoons.blogspot.com/

ZEAL said...

.

भाटिया जी,

आपका प्रयास सराहनीय है । मेरे दो ब्लॉग हैं। मुझे ब्लॉग परिवार में शामिल होकर प्रसन्नता होगी।

http://zealzen.blogspot.com/

http://aditijohri.blogspot.com/

Thanks

.

नरेश सिह राठौड़ said...

भाटिया साहब ,आप ब्लोगरों के दर्द को बहुत जल्दी समझ लेते है | ये प्रयास बहुत अच्छा है | जब तक कोई इससे बढ़िया रास्ता नही मिलता तब तक ये भी सही है इसे ही जारी रखिए |
मेरा ब्लॉग http://myshekhawati.blogspot.com है | अपने ब्लॉग की भाषा को जर्मनी से अँग्रेजी कीजिये समझ मे नही आ पाएगा

Indian Citizen said...

bhatia ji, please add
http://indzen.blogspot.com
thank you

Akshita (Pakhi) said...

यह तो बहुत कमाल का है. इक साथ ही ढेर सारे ब्लॉग की पोस्ट दिख जायेंगीं. इसका लिंक मैं अपने ब्लॉग पर लगा देती हूँ. मेरा ब्लॉग 'पाखी की दुनिया' भी इसमें जोड़ लें-

http://pakhi-akshita.blogspot.com

ajit gupta said...

आपका स्‍वागत है।

Meenu Khare said...

स्वागत योग्य कदम.मेरे ब्लॉग लिंक्स यह हैं.

http://meenukhare.blogspot.com/

और

http://entertainingscience.blogspot.com/

नववर्ष की शुभकामनाएँ.

महेन्द्र मिश्र said...

bahut badhiya prayaa hai ...badhai raj ji...

डा. अरुणा कपूर. said...

Blog parivaar se mai judna chaahti hun!....aapka prayaas prashansaneey hai...aneko shubh-kamnaaen Bhatis ji!...aur naya saal bahut bahut mubaarak!

1)http://jayaka-baatkabatangad.blogspot.com/

2)http://jayaka-rosegarden.blogspot.com/

3)http://arunakapoor.blogspot.com/

Akanksha~आकांक्षा said...

वाकई महत्वपूर्ण कदम...साधुवाद.

मेरे ब्लॉगों का लिंक -

www.shabdshikhar.blogspot.com
(शब्द-शिखर)
www.saptrangiprem.blogspot.com (सप्तरंगी प्रेम)
www.utsavkerang.blogspot.com
(उत्सव के रंग)
www.balduniya.blogspot.com
(बाल-दुनिया )

कृष्ण कुमार जी के ब्लॉगों के लिंक-
www.kkyadav.blogspot.com
(शब्द सृजन की ओर)
www.dakbabu.blogspot.com
(डाकिया डाक लाया)
www.azamgarhbloggers.blogspot.com
(आज़मगढ़ ब्लॉगर्स एसोसिएशन : Azamgarh Bloggers Association )

सादर,
आकांक्षा यादव

mrityunjay kumar rai said...

आदरणीय राज भाटिया जी
नमस्कार
भाटिया जी प्रयास बहुत सराहनीय है . वैसे आप का आशीर्वाद माधव को तो बराबर मिलता रहता है . आप का ये प्रयास वधाई का पात्र है . ये रहा मेरा और माधव का ब्लॉग

http://madhavrai.blogspot.com/

http://www.qsba.blogspot.com/

उपेन्द्र ' उपेन ' said...

राज जी , बहुत ही अच्छा कार्य........ शुभकामनाये. हम भी साथ है .
www.srijanshikhar.blogspot.com (सृजन_शिखर)

क्रिएटिव मंच-Creative Manch said...

एक सार्थक व सुन्दर प्रयास
ऐसी पहल की आवश्यकता भी थी
हम आपके साथ हैं ... शुभ कामनाएं

कृपया हमारे ब्लॉग को भी शामिल करें :

http://cmindia.blogspot.com

परमजीत सिँह बाली said...

स्वागत योग्य कदम.मेरे ब्लॉग लिंक्स यह हैं.

http://aphmkj.blogspot.com/
http://paramjitbali-ps2b.blogspot.com/
http://gurudevji.blogspot.com/
http://pappee.blogspot.com/

एस.एम.मासूम said...

राज साहब सबसे पहले तो आप को सलाम. सत्य यही है की आप का प्रयास काबिल ए तारीफ है और मैं आप के साथ हूँ..
आप मेरे इन ब्लोग्स को जोड़ लें.

http://payameamn.blogspot.com/
http://aqyouth.blogspot.com/
http://bezaban.blogspot.com/
https://amankapaigam.wordpress.com/
...धन्यवाद्

Arvind Mishra said...

http://mishraarvind.blogspot.com/

http://indianscifiarvind.blogspot.com/
http://indiascifiarvind.blogspot.com/

http://ss.samwaad.com/

http://sb.samwaad.com/

http://ts.samwaad.com/

regards,
arvind mishra

DR. ANWER JAMAL said...

ॐ शांति
वअलैकुम अस्सलाम ,
आपका क़दम वास्व में रचनात्मक है ।
अर्ज़ किया है कि

अंजाम उसके हाथ है आग़ाज़ करके देख
भीगे हुए परों से ही परवाज़ करके देख

मेरे 4 ब्लाग मेरे प्रोफ़ाइल में चमक रहे हैं । आप का साथ देने की ग़र्ज़ से मैं चारों आपके सुपुर्द करता हूं । इनमें मैं सच लिखता हूं जो कि प्रायः असुविधा उत्पन्न करता है ।
आप एक नज़र इन चारों पर डाल लीजिए और अपनी पसंद से चारों या जो भी आपकी शर्त पर पूरा उतरता हो , उसे ले लीजिए।
आपके इस रचनात्मक काम में मैं आपके साथ हूं ।

Indranil Bhattacharjee ........."सैल" said...

एक सार्थक व सुन्दर स्वागत योग्य कदम.मेरे ब्लॉग लिंक्स यह हैं.

www.indranil-sail.blogspot.com
www.asli-nakli.blogspot.com

मेरी बेटी का ब्लॉग यह है:
www.rimjhim2010.blogspot.com

Shah Nawaz said...

बहुत बढ़िया प्रयास है राज जी... हमारे ब्लॉग भी जोड़ दीजिये...

प्रेमरस.कॉम - http://www.premras.com
छोटी बात : http://chhotibat.premras.com

अविनाश वाचस्पति said...

बहुत गुड काम है
काम नहीं कर्म है
ब्‍लॉगिरी का मर्म है
टिप्‍पणी देना धर्म है
http://avinashvachaspatinetwork.blogspot.com/
http://twitter.com/avachaspati
http://avinash.nukkadh.com
http://www.nukkadh.com/
http://pitaajee.blogspot.com/
http://jhhakajhhaktimes.blogspot.com/
http://bageechee.blogspot.com/
http://tetalaa.blogspot.com/
http://avinashvachaspati.jagranjunction.com/

रानीविशाल said...

Bahut bahut badhaiyan aur bahut bahut dhanyvaad bhi aapko is karya ke liye ....
mera aur aapki beti Anushka dono ke hi blog links
काव्य तरंग: http://kavyamanjusha.blogspot.com/
अनुष्का: http://anushkajoshi.blogspot.com/
apane karava me hame bhi saath lijiye ..bahut parsnnta hogi

जी.के. अवधिया said...

यह तो आप बहुत अच्छा कार्य कर रहे हैं राज जी!

कृपया हमें भी जोड़ लें: http://dhankedeshme.blogspot.com

पद्म सिंह said...

अरे वाह! नए परिवार की बधाइयाँ
प्रयास सराहनीय है.

कृपया मेरा और मेरी धर्मपत्नी दोनों के ब्लॉग जोड़ लें.
http://padmsingh.wordpress.com
http://rajankikavitayen.blogspot.com
http://anusamvedna.wordpress.com
http://pyaraurpreet.blogspot.com
http://singhanita.wordpress.com

संभव है वर्डप्रेस के ब्लॉग यहाँ न जोड़े जा सकें. चाहें तो केवल ब्लॉगर के लिकं जोड़ लें.

दूसरी बात सविनय कहनी है कि कृपया ब्लांग की जगह ब्लॉग शब्द का उपयोग करेंगे तो अच्छा लगेगा.

पद्म सिंह said...

ब्लॉग परिवार के डैशबोर्ड की भाषा शायद अंग्रेजी के इतर कोई अन्य है.. कृपया उसे हिंदी या अंग्रेजी में कर लें.

Satish Chandra Satyarthi said...

आपको बहुत बहुत धन्यवाद और शुभकामनाएं इस कार्य को शुरू करने के लिए..
मेरे ब्लॉग हैं:
http://korea.scsatyarthi.in/
http://www.korean.scsatyarthi.in/
http://jnuindia.blogspot.com/
और पद्म सिंह जी की बात पर गौर करें. ब्लॉग की जगह ब्लांग हो गया है...

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत सराहनीय प्रयास ....शुभकामनायें ..

कृपया मेरे ब्लोग्स भी शामिल करें --

http://geet7553.blogspot.com/

http://gatika-sangeeta.blogspot.com/

संजय भास्कर said...

आदरणीय भाटिया जी
नमस्कार
बहुत सराहनीय प्रयास ....शुभकामनायें ..
शुभकामनाएं इस कार्य को शुरू करने के लिए..
कृपया मेरे ब्लोग्स भी शामिल करें -
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

Harman said...

very nice..
Please Visit My Blog..
Lyrics Mantra

हरीश भट्ट said...

shukriya bhatiya ji
sarahneey prayas hain
main apne blog ka link de raha hoon kripya mujhe bhi jode
http://harishbhattudghosh.blogspot.com/

इंदु पुरी गोस्वामी said...

वाओ !मैं भी आआआआआआआआ गई.क्या करूं ऐसीच हूँ मैं तो
moon-uddhv.blogspot.com

सुरेश शर्मा (कार्टूनिस्ट) http://cartoondhamaka.blogspot.com/ said...

भाटियाजी, आपका प्रयास सराहनीय
है, मुझे भी ब्लॉग से जोड़ें !
http://cartoondhamaka.blogspot.com

jayant said...

aapke blog se mujhe bhi jode..thanks.

http://hamarasamaj-jayant.blogspot.com/

आलोकिता said...

achi koshish hai. mere blog ka link bhi is pariwar mein samil kar len
http://alokitajigisha.blogspot.com/

आलोकिता said...

ye link mere blog ka to nahi par fir bhi ise saamil kar len to acha rahega'
http://abhishekinsight.blogspot.com/
ye Abhishek bhaiya ka blog hai

Arvind Mishra said...

आभार भाटिया साहब ,मेरे सभी ब्लागों को जोड़ने के लिए -अब ब्लांग को ब्लॉग कर दीजिये तो विजेट भी लगा लूं जल्दी से !

संजीव द्विवेदी said...

सार्थक कदम ,धन्यवाद
क्रुपया मुझे भी जोड़ें ।

http://sanjiv2.blogspot.com/

अभिषेक मिश्र said...

राज जी, मेरे ब्लॉग को भी अपने इस प्रयास में शामिल कर लें.

ourdharohar.blogspot.com

gandhivichar.blogspot.com

राज भाटिय़ा said...

अगर अभी तक आप के ब्लाग नही आये तो मुझे याद जरुर दिलाये कि भाई हमारा ब्लाग अभी तक क्यो नही दिखाई दिया, कृप्या साथ मे लिंक जरुर दे-

सिर्फ़ एक प्रिय भाई जान के ब्लाग अभी मेने नही डाले, उन के बारे सोच रहा हुं, साथियो से सलाह जरुर करुंगा, फ़िर .
आप सभी का धन्यवाद, किसी का ब्लाग रह गया हो तो जरुर याद दिलाये आखिर मै भी इंसान हुं गलती हो सकती हे

Anonymous said...

I am just a reader not a blogger. Most of us in society raise figer on evil system or claim that they are doing this for the welfare of hindi language...........etc..etc. We can find lots of people in society who can give great ideas or raise finger on different issues. But ther are only few people like you who take constructive actions to resolve the problem.
Most of our hindi bloggers are like our political leaders who can raise finger on other blogger / social evils / corruption / relegion of others..etc. We need leaders like you who take actions to resolve issues. I hope our Hindi bloggers will pay more attention to the brighter/positive side of your action rather than trying to find fault as they did for your blogger meet.

सुशील बाकलीवाल said...

उत्तम प्रयास के लिये शूभकामनाएँ.
उम्मीद करता हूँ कि आपका यह लघु प्रयास भी चिट्ठा जगत जैसे एग्रीगेटर की कमी दूर कर सकेगा । मेरे ब्लाग जिन्हे यहाँ स्थान मिलने की कामना है उनके लिंक प्रस्तुत कर रहा हूँ.
http://najariya.blogspot.com/
http://jindagikerang.blogspot.com/
http://swasthya-sukh.blogspot.com/
नूतन वर्ष आपके लिये शुभ और मंगलमय हो...

Akhtar Khan Akela said...

bhaatiyaa ji good morning jaa rhe saal kaa dukh or aa rhe saal ki khushi men aap bhi hmare sath shamil ho jnab aap ke andaaz ne to bs hemn gulaam bna liyaa ho ske to mere blog akhtarkhanakela.blogspot.com ko bhi aapke blog privar ke kisi kone me jgh de den pliz . akhtar khan akela kota rajsthan

Akhtar Khan Akela said...

bhaatiyaa ji good morning jaa rhe saal kaa dukh or aa rhe saal ki khushi men aap bhi hmare sath shamil ho jnab aap ke andaaz ne to bs hemn gulaam bna liyaa ho ske to mere blog akhtarkhanakela.blogspot.com ko bhi aapke blog privar ke kisi kone me jgh de den pliz . akhtar khan akela kota rajsthan

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

बहुत सुंदर प्रयास है, एग्रीगेटर बन ही गया।

Rahul Singh said...

उपयोगी और वांछित आपके इस पेज पर देर से पहुचा, शामिल होने के लिए URL दे रहा हूं-
सिंहावलोकन http://akaltara.blogspot.com/
आपके पेज की भाषा अंगरेजी हो सकती है क्‍या.

PrakashYadav said...

sarahniya kadam aur ek achha prayaas...
mere blog ko avalokan karein aur agar uchit lage to add karein...
http://yadavprakash.blogspot.com/

वन्दना said...

्बहुत बढिया प्रयास्…………शामिल हो गये हैं।

bhavnayen said...

raj ji ek achha kariye hai


http://www.jyotidang.blogspot.com/

bhavnayen said...

http://www.jyotidang.blogspot.com/
yeh hai mere blog ka link kripa mujhe bhi blog priwaar mein jodein

smshindi said...

आदरणीय राज भाटिया जी
नमस्कार
बहुत सुंदर प्रयास है
मेरा ब्लॉग "smshindi" को भी अपने इस प्रयास में शामिल कर लेंना जी!

smshindi said...

मेरा ब्लॉग का लिंक्स दे रहा हूं!
http://smshindi-smshindi.blogspot.com

smshindi said...

NAYA SAAL 2011 CARD 4 U
_________
@(________(@
@(________(@
please open it

@=======@
/”**I**”/
/ “MISS” /
/ “*U.*” /
@======@
“LOVE”
“*IS*”
”LIFE”
@======@
/ “LIFE” /
/ “*IS*” /
/ “ROSE” /
@======@
“ROSE”
“**IS**”
“beautifl”
@=======@
/”beautifl”/
/ “**IS**”/
/ “*YOU*” /
@======@

Yad Rakhna mai ne sub se Pehle ap ko Naya Saal Card k sath Wish ki ha….
मेरी नई पोस्ट पर आपका स्वागत है !

राज भाटिय़ा said...

आप सब को नमस्कार, मै जल्द ही इस ब्लाग कि भाषा हिन्दी ओर शुद्ध हिन्दी मे करुंगा, या फ़िर अग्रेजी मे जो आप लोगो को समझ आ सके
कृप्या आप अपने ब्लाग का नाम ही नही URL भी साथ मे दे तो मुझे बहुत सुबिधा होती हे धन्यवाद

नया सवेरा said...

... shubhaa-shubh nav varsh !!

http://nayaasaveraa.blogspot.com/

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

राज जी, आपके प्रयासों की जितनी सराहना की जाए कम है।

कृपया मेरे निम्‍न ब्‍लॉग भी इसमें जोडने की कृपा करें-

मेरी दुनिया मेरे सपने
http://za.samwaad.com/
बालमन
http://bm.samwaad.com/
हमराही
http://hr.samwaad.com/
तस्‍लीम
http://ts.samwaad.com/
सर्प संसार
http://ss.samwaad.com/
साइंस ब्‍लॉगर्स असोसिएशन http://sb.samwaad.com/

mahendra verma said...

नमस्कार भाटिया जी,
आपका प्रयास सराहनीय है,
मुझे आपके साथ जुड़ने में प्रसन्नता होगी।
मेरे ब्लॉग का URL यह है-

http://shashwat-shilp.blogspot.com/

दर्शन लाल बवेजा said...

राज जी बहुत अच्छा प्रयास है। मुझे आपका साथी होना मंज़ूर है'
http://sciencemodelsinhindi.blogspot.com/
http://kyonorkaise.blogspot.com/
http://parthvi-indu.blogspot.com/

venus****"ज़ोया" said...

नमस्कार भाटिया जी

बहुत सुंदर प्रयास है..और मुझे ख़ुशी होगी अगर मेरे ब्लॉग भी आपके परिवार का हिस्सा बने .
mere blogs hain..

www.venusjun25.blogspot.com
&
www.simplybest-gulzaar.blogspot.com

..take care

दीपक बाबा said...

भाटिया जी, चिंता तो बहुतों ने की - पर आपने चिंतन किया.....
न केवल चिंतन किया....
परन्तु प्रयत्न भी किये....
प्रयत्न सार्थक थे....
अत: बिरादरी को फल जरूर मिलेगा.

जय हो.

अ मेरा ब्लॉग है :
http://deepakmystical.blogspot.com

ते अ साडे पूर्वीय दा ब्लॉग है :
http://purviya.blogspot.com

रचना said...

german is also showing

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

चलो जर्मन सीखते हैं,

Minuten = मिनट
Stunden = घंटे
Stunde = घंटा
Tag = दिन

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

चलो जर्मन सीखते हैं,
दूसरा पाठ
Woche = सप्ताह
Monaten = माह
Jahr = वर्ष
Veröffentlichen = प्रकाशित करें
Vorschau = पूर्वावलोकन

संजय ग्रोवर Sanjay Grover said...

अच्छी ख़बर है।
http://www.samwaadghar.blogspot.com/
http://www.saralkidiary.blogspot.com/
http://www.paagal-khaanaa.blogspot.com/
चिट्ठों का कलेवर आपके सामने है ही ।

राज भाटिय़ा said...

आप सभी का धन्यवाद, अब धीरे धीरे मै इस जर्मन भाषा को हटा रहा हुं, मेरे बच्चो के पास समय कम होता हे, ओर वो ही मेरी मदद करते हे, जब तक यह नही होता तब तक आप जर्मन ही सीख ले, कभी ना कभी काम आयेगी,धन्यवाद

mahendra verma said...

नव वर्ष 2011
आपके एवं आपके परिवार के लिए
सुखकर, समृद्धिशाली एवं
मंगलकारी हो...
।।शुभकामनाएं।।

संगीता पुरी said...

बहुत बढिया प्रयास ..

शुभकामनाएं ..
मेरे ब्‍लॉग्‍स के लिंक ..

http://sangeetapuri.blogspot.com
http://gatyatmakchintan.blogspot.com/
http://jyotishsikhe.blogspot.com/
http://khatrisamaj.blogspot.com/
http://bokarozila.blogspot.com/
http://rashi-fal.blogspot.com/
http://jyotishsachyajhuth.blogspot.com/
http://computerhindi.blogspot.com/

महेन्द्र मिश्र said...

नए वर्ष में मेरे ब्लॉग "समयचक्र" को शामिल करने का कष्ट करें
http://mahendra-mishra1.blogspot.com/
...नववर्ष पर आपको हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई ....

महेन्द्र मिश्र said...

मेरे ब्लॉग "समयचक्र" को शामिल करने का कष्ट करें
http://mahendra-mishra1.blogspot.com/

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

भाटिया जी,
इतना तो बता दो, जितनी जर्मन सीखी वह सही है या नहीं?

दर्शन लाल बवेजा said...

thanks...
happy new year

राज भाटिय़ा said...

दिनेश जी बहुत सुंदर जी, सब ठीक ओर सही अर्थ हे जी, लेकिन आप ने कहां से यह शव्द सीख लिये मै हेरान हुं. धन्यवाद अगर आप ने जर्मन सीखनी हे तो मै कोई साईड ढुढ कर देता हूं आप को या सब को, या किसे एक ब्लाग पर जर्मन सबक दे देते हे, पोस्ट की पोस्ट ओर पढाई की पढाई

P.N. Subramanian said...

उल्फत की नईं मंजिल को चलें. हम भी तो खड़े हैं राहों में!
http://mallar.wordpress.com

खबरों की दुनियाँ said...

स्वागत है - अच्छा प्रयास । नववर्ष की शुभकामनाएं आपको एवम परिवार के सभी सम्माननीय साथियों को । सादर - आशुतोष मिश्र , खबरों की दुनियाँ । http://khabaronkiduniyaraipur.blogspot.com/

Mayank Bhardwaj said...

आदरणीय राज भाटिया जी
नमस्कार
मेरे ब्लॉग "Computer Duniya" को शामिल करने का कष्ट करें

http://mayankaircel.blogspot.com/

Mithilesh dubey said...

http://mithileshdubey.blogspot.com
www.hindisahityamanch.com
http://rajnitikbhadas.blogspot.com

Atul Shrivastava said...

राज जी, बहुत बढिया प्रयास है आपका, ब्‍लागरों को आपस में जोडने का। इस महति काम के लिए आपका धन्‍यवाद और शुभकामनाएं। ब्‍लाग की दुनिया में मैं नया हूं, समय समय पर आपका मार्गदर्शन चाहूंगा, उम्‍मीद है आप मार्गदर्शन देंगे। आपको एक बार और बधाई हो। सच ही कहा गया है, 'मैं अकेला ही चला था जानिबे मंजिल को, लोग जुडते गए कारवां बनता गया'। यह शायद आप जैसे लोगों के लिए ही कहा गया होगा।
अतुल श्रीवास्‍तव, राजनांदगांव(छत्‍तीसगढ)
मेरे ब्‍लाग का पता है- atulshrivastavaa.blogspot.com
राज जी, मेरा इ मेल पता aattuullss@gmail.com है। मैं आपसे यह जानना चाहता हूं कि क्‍या कोई अपने ब्‍लाग का शीर्षक बदल सकता है, यदि बदल लें तो क्‍या जहां ब्‍लाग का लिंक है, उस पर कोई विपरीत प्रभाव तो नहीं पडता।

Roz Ki Roti said...

Raj Bhatiya Ji,
Please add my blog to Blog parivaar. The URL is: http:\\rozkiroti.blogspot.com

Thank You,
Sincerely,
Roz kI Roti

अजय कुमार झा said...

राज़ भाई ,
कृपया इस यू आर एल को भी शामि९ल करें

http://blog.ajaykumarjha.com/

अल्पना वर्मा said...

बहुत बढिया प्रयास !

धन्‍यवाद और शुभकामनाएं..
कृपया मेरे ब्‍लाग का लिंक शामिल करें---
http://alpana-verma.blogspot.com/

राज भाटिय़ा said...

आप सभी का धन्यवाद अब आप अपने लिंक जो इस ब्लाग परिवार मे शामिल करने हे कृप्या नयी पोस्ट पर दे, यहां कई बार मिस हो जाते हे, धन्यवाद

प० अनिल जी शर्मा सहारनपुर said...

बहुत सुंदर प्रयास है..

कृपया मेरे ब्‍लाग का लिंक शामिल करें---
http://www.anilastrologer.blogspot.com/

चेतना के स्वर said...

बहुत अच्छा काम किया कब तक दूसरो की राह तकते | मेरा ब्लॉग भी जोड़ ले अपने परिवार में |
http://chetna-ujala.blogspot.com

Harish singh, Mithilesh dubey said...

kripya mere naye blog ko jodane ka kasht karen .........

www.upkhabar.in

डॉ. मनोज शर्मा said...

मित्र, मुझे भी अपनी मंडली में सम्मिलित कर कृतार्थ करें-

http://mangal-chintan.blogspot.com

http://mangalkavita.blogspot.com

Dr. O.P.Verma said...

ब्लॉग का पता http://flaxindia.blogspot.com
अलसी - एक चमत्कारी आयुवर्धक, आरोग्यवर्धक दैविक भोजन

“पहला सुख निरोगी काया, सदियों रहे यौवन की माया।” आज हमारे वैज्ञानिकों व चिकित्सकों ने अपनी शोध से ऐसे आहार-विहार, आयुवर्धक औषधियों, वनस्पतियों आदि की खोज कर ली है जिनके नियमित सेवन से हमारी उम्र 200-250 वर्ष या ज्यादा बढ़ सकती है और यौवन भी बना रहे। यह कोरी कल्पना नहीं बल्कि यथार्थ है। आपको याद होगा प्राचीन काल में हमारे ऋषि मुनि योग, तप, दैविक आहार व औषधियों के सेवन से सैकड़ों वर्ष जीवित रहते थे। इसीलिए ऊपर मैंने पुरानी कहावत को नया रुप दिया है। ऐसा ही एक दैविक आयुवर्धक भोजन है “अलसी” जिसकी आज हम चर्चा करेंगें।
पिछले कुछ समय से अलसी के बारे में पत्रिकाओं, अखबारों, इन्टरनेट, टी.वी. आदि पर बहुत कुछ प्रकाशित होता रहा है। बड़े शहरों में अलसी के व्यंजन जैसे बिस्कुट, ब्रेड आदि बेचे जा रहे हैं। भारत के विख्यात कार्डियक सर्जन डॉ. नरेश त्रेहान अपने रोगियों को नियमित अलसी खाने की सलाह देते हैं ताकि वह उच्च रक्तचाप व हृदय रोग से मुक्त रहे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (W.H.O.) अलसी को सुपर स्टार फूड का दर्जा देता है। आयुर्वेद में अलसी को दैविक भोजन माना गया है। मैंने यह भी पढ़ा है कि सचिन के बल्ले को अलसी का तेल पिलाकर मजबूत बनाया जाता है तभी वो चौके-छक्के लगाता है और मास्टर ब्लास्टर कहलाता है। आठवीं शताब्दी में फ्रांस के सम्राट चार्ल मेगने अलसी के चमत्कारी गुणों से बहुत प्रभावित थे और चाहते थे कि उनकी प्रजा रोजाना अलसी खाये और निरोगी व दीर्घायु रहे इसलिए उन्होंने इसके लिए कड़े कानून बना दिए थे।
यह सब पढ़कर मेरी जिज्ञासा बढ़ती रही और मैंने अलसी से सम्बन्धित जितने भी लेख उपलब्ध हो सके पढ़े व अलसी पर हुई शोध के बारे में भी विस्तार से पढ़ा। मैं अत्यंत प्रभावित हुआ कि ये अलसी जिसका हम नाम भी भूल गये थे, हमारे स्वास्थ्य के लिये इतनी ज्यादा लाभप्रद है, जीने की राह है, लाइफ लाइन है। फिर क्या था, मैंने स्वयं अलसी का सेवन शुरु किया और अपने रोगियों को भी अलसी खाने के लिए प्रेरित करता रहा। कुछ महीने बाद मेरी जिन्दगी में आश्चर्यजनक बदलाव आना शुरु हुआ। मैं अपार शक्ति व उत्साह का संचार अनुभव करने लगा, शरीर चुस्ती फुर्ती तथा
गज़ब के आत्मविश्वास से भर गया। तनाव, आलस्य व क्रोध सब गायब हो चुके थे। मेरा उच्च रक्तचाप, डायबिटीज़ ठीक हो चुके थे। अब मैं मानसिक व शारीरिक रुप से उतना ही शक्तिशाली महसूस कर रहा था जैसाकि 30 वर्ष पहले था।

“आशु” said...

अच्छा लगा ब्लॉग परिवार मैं आ कर.... आप भी आईये कभी हमारे "चौपाल" कुछ बातें होंगी कुछ शब्दों का कारवां बनायेंगे...शब्दों के संग खेलने की हमारी कोशिश होती है -"चौपाल" में,और इस कोशिश मैं जरा नया हूँ...सो आप लोगों का आशीर्वाद चाहूँगा ....
आशु

http://chaupal-ashu.blogspot.com/

 
Minima 4 coloum Blogger Template by Beloon-Online.
Simplicity Edited by Ipiet's Template