01/01/2011

आप सब की राय ओर मदद दोनो जरुरी हे मेरे लिये..

सब से पहले तो मै आप सब से एक राय लेना चहाता हुं कि, मै एक डोमेनो ले रहा हुं, लेकिन उस से पहले आप बताये कि आप मे से कोन मेरे साथ काम मे हाथ बटायेगां, यानि मुझे होम पेज बनाना नही आता,ओर हमे नये एग्रीगेट्र के लिये एक अच्छा सा टेमपलेट चाहिये, फ़िर उस मे लागिंन बगेरा का फ़ोलडर बनाना, ओर अन्य बहुत से काम करने होंगे, जो शायद मेरे बस मै नही, तो बताईये कोन इस काम मे मेरा हाथ बंटायेगा? यह आम ब्लाग का टेमपलेट नही, इस लिये वोही लोग हां करे जो इस काम को अच्छी तरह से ओर मुफ़त मे करना चाहते हो,ओर इस काम को जानते हो ताकि हम अपना एक सुंदर सा एग्रीगेटर बना सके. तो मुझे मेल से या टिपण्णी से सुचित करे,

जो आदमी भुत काल से सबक नही लेता वो बार बार गलती करता हे, इस लिये मै उन गलतियो से बचना चाहता हूं, यानि अगर मै कोई ऎग्रीगेट्र बनाता हुं तो वो मेरे जीते जी तो चलेगा ही यह मेरी कोशिश रहेगी, क्योकि मैने उन ऎग्रीगेटरो से बहुत सबक लिया हे, जो किसी भी मजबूरी बस या हम सब से तंग आ कर अपना एग्रीगेट्र बन्द करने को मजबूर हो गये, मै उन सब का दिल से धन्यवाद करता हुं, जिन्होने हम सब का साथ यहां तक निभाया, ओर इन सब का कोई कसूर नही बस हम मे से ही कुछ लोग निकम्मे निकले जिस के कारण इन्हे जाना पडा, वर्ना ओर क्या कारण हो सकता हे, इन का दुख इन्हे कम नही होगा, एक बार आप सोचे अपने ब्लाग को बन्द करने कि? आप को भी दुख होगा.
  आप अपने कितने ही ब्लाग डाले,कोई चिंता नही, लेकिन गलत( सेक्स) सामग्री ओर  किसी भी राज नीति या राज नेताओ के ब्लाग जो दुसरी पार्टी के विरुध लिखे उन सब के लिये कोई स्थान नही होगा,आप अपनी सलाह भी बेबाक दे सकते हे इस नये एग्रीगेट्र के बार, ओर जो इस काम के विशेषग्या हे , पुराने ऎग्रीगेट्र अगर वो मेरी मदद करे तो मै उन सब का अति धन्यवादी रहूंगा, ओर अगर वो अपने ऎग्रीगेट्र मुझे सोपना चाहे तो मै उन्ही एग्रीगेट्र को आगे चला सकता हू. उन का जितना खर्च हुआ होगा वो मै देने को तेयार हूं. मुझे अपना फ़ोन ना० भेज दे मै उन से बात कर सकता हुं , फ़ोन ना० कही का भी हो.लेकिन डोमेना लेने का फ़ेसला मेरा होगा.

 ओर ब्लाग मित्रो की राय की भी बहुत जरुरत हे, ऎग्रीगेटर केसा हो, जेसा अब  हे या दो लाईन तीन लाईन या एक लाईन यह सब जरुर लिखे,ओर भी अपनी अपनी राय  जो आप को अच्छी लगती हो  जरुर दे, पिछली गलतियो से ही हम सबक सीखे गे तभी आगे बढेगे, ओर उन कमियो को मुझे जरुर बताये ताकि इस बार उन गलतियो को हम ना दोहराये.जो भी मेरी मदद करेगा उस का मेहनताना उसे मिलेगा टेपलेट बनाने मे.
आप सब की राय ओर मदद के बिना मै शुन्य हुं, मैने जयकार लगा दिया हे अब उस जयकारे को बुलंद आवाज आप सब ने देनी हे. जय हिन्द.

नोट:- जो भी लोग अपना ब्लाग इस ब्लाग परिवार मे शामिल करवाना चाहते हे, वो मुझे टिपण्णी से या मेल से अपना URL पुरा भेजे ओर जितने चाहे भेजे,कृप्या वो लोग ना भेजे जो पहले भेज चुके हे, ओर जिन का नाम पहले से ही लिस्ट मे हे, ओर जिन्होने भेजे तो हे लेकिन उन का नाम लिस्ट मे नही दिख रहा तो वो शिकायत भी कर सकते हे, ओर शिकायत के संग दोबारा अपना URL भेजे, धन्यवाद

53 टिपण्णियां:

dhiru singh {धीरू सिंह} said...

इस मामले में मै सिर्फ़ शुभकामना ही दे सकता हूं . http://darvaar.blogspot.com

Indranil Bhattacharjee ........."सैल" said...

भाटिया जी, मैं तो केवल आपके सिधान्तो का समर्थन कर सकता हूँ और ये कह सकता हूँ इन ब्लोग्स को स्थान न दिया जाय...
१. सेक्स सम्बन्धी ब्लॉग, पर यदि कोई ऐसा ब्लॉग हो जो वैज्ञानिक रूप से सेक्स सम्बन्धी जानकारी दे रहा हो उसे स्थान दिया जा सकता है
२. धार्मिक मनोमालिन्य फ़ैलाने वाले ब्लॉग को तो बिलकुल नहीं
३. राजनीती सम्बन्धी या राजनैतिक दल से जुड़ा ब्लॉग
ये मेरे निजी मत हैं, आगे आपकी मर्जी ...
आपके काम के लिए अनेक शुभकामनाएं ...

ajit gupta said...

आपको हमारी शुभकामनाएं।

एस.एम.मासूम said...

राज जी अच्छा विचार है. वैसे एक बात अवश्य कहना चाहूँगा. केवल उन ब्लॉग को स्थान ना दें जहाँ से किसी दूसरे धर्म की बुराई हो या राजनीतिक मकसद के चलते किसी किसी ख़ास राजनेता की हिमायत हो, और गलत( सेक्स) सामग्री वाले ब्लॉग. इसके लिए आप को स्वम फैसला करना होगा, दूसरे बलोगेर की बताई इमेज के अनुसार फैसला सही नहीं हो सकेगा.


आप सही हैं की "जो आदमी भुत काल से सबक नही लेता वो बार बार गलती करता हे, इस लिये मै उन गलतियो से बचना चाहता हूं"
..

पहले वाले एग्रीगेटर क्यों बंद हुए? इसका सही जवाब आप को पहले के एग्रीगेटर चलाने वाला ही दे सकता है, ब्लॉगजगत मैं जो मशहूर है वो सही भी हो सकता है और ग़लत भी हो सकता है.
जब तक आप सही कारण नहीं जानेंगे ग़लतियों से कैसे बचेंगे.

इंदु पुरी गोस्वामी said...

मेरा ब्लॉग 'उद्धवजी' मुझे नही दिख रहा.यदि ब्लोग्स को वर्णमाला के अनुसार दिया जाए तो ढूढने में आसानी होगी.आपके प्रयासों के लिए और नए एग्रीगेटर का उपहार देने के लिए हम सब आपके शुक्र गुज़ार हैं राज सर !
moon-uddhv.blogspot.com

Satish Chandra Satyarthi said...

इतनी तकनीकी जानकारी तो है नहीं.. अगर होती तो सहयोग देने में खुशी होती.. बाकी डोमेन तो .com ही लें एक तो याद आसानी से रहता है.. दूसरा सर्च इंजन में भी अच्छी रैंकिंग आती है और व्यावसायिक वैल्यू भी रहेगी, यदि में आर्थिक सहयोग के लिए विज्ञापन वगैरह लगाना चाहें तो.. आप दूसरा डोमेन ले लें और लोकप्रिय हो जाने के बाद कहीं कोई उसी नाम का डॉट कॉम खरीद ले तो सारा गुड गोबर हो सकता है.. डोमेन और होस्टिंग दोनों किसी अंतर्राष्टीय स्तर की अच्छी कंपनी (जैसे होस्टगेटर, गोडैडी इत्यादि) से लें जिससे ज्यादा लोड पड़ने पर भी साईट चलती रहे.. आजकल लगभग सारी अच्छी कंपनियां अनलिमिटेड बैंडविड्थ दे रही हैं..
मेरी सारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं...
विनायक सेन चिट्ठाचर्चा पर काहे बोलतो?

Akshita (Pakhi) said...

मेरा ब्लॉग जोड़ने के लिए धन्यवाद. नव वर्ष पर आप सभी को ढेर सारी बधाइयाँ.
_____________
'पाखी की दुनिया' में नए साल का पहला दिन...

राज भाटिय़ा said...

@इंदु पुरी गोस्वामी जी ऎसा केसे हो सकता हे कि आप का ब्लाग ना हो, आप ने ध्यान से नही देखा, जब आप नयी पोस्ट डाले तो देखे *आप की नयी पोस्ट ३* वाली लाईन मे सब से ऊपर आयेगी, अभी तो काफ़ी नीचे हे, ध्यान से देखे. धन्यवाद

DR. ANWER JAMAL said...

ब्लागिंग एक नशा या एक पवित्र मिशन ?
.
कुछ लोग कुछ करना नहीं चाहते और कुछ लोग सिर्फ ये कर दूँगा मैं वो कर दूँगा का शोर मचाया करते हैं और करते कुछ भी नहीं हैं सिवाय शोर पुकार के ।
...लेकिन एक वीर ऐसा भी होता है जो कि कर डालता है , उसे 'पुरुषार्थी और कर्मवीर' कहा जाता है ।
आपको मैं कुछ भी नहीं दे सकता सिवाय इन दो महान विशेषणों के और दुआ के ।
पिछले एग्रीगेटर बंद क्यों हुए इस पर भाई ज़ाकिर की पोस्ट पर पक्ष विपक्ष ने जो तर्क वितर्क किए हैं वे भी आपके लिए देखनीय हैं ताकि एकतरफ़ा फ़ैसलों के भावनात्मक असंतुलन से बचा जा सके । जिसे आप पंजीकरण नहीं देंगे वह अपनी बात आपके द्वारा पंजीकृत ब्लाग्स पर कमेंट करके कहेगा और तब उसके कमेंट आपके कमेंट कॉलम में दिखाई देंगे ।
अश्लील ब्लाग्स तो नहीं होने चाहिएं ।

ब्लागिंग मेरे लिए एक पवित्र मिशन है जिसके ज़रिये मैं मनु महाराज और उनके बाद आये सत्पुरूषों के लुप्त हो चुके सिद्धांतों को संवाद के ज़रिये सामने लाता हूं । मेरे जैसे लोगों के लिए तो हर तरह का एग्रीगेटर चलेगा लेकिन जो पियक्कड़ क़िस्म के लिक्खाड़ हैं उन्हें आपके एग्रीगेटर पे तब तक सुरूर आने वाला नहीं है जब तक कि उसमें वोट देने और टॉप पर आने का रोमांच न हो । इसी कमी के चलते ब्लाग प्रहरी जैसे ठीक-ठाक एग्रीगेटर पर ये लोग जाकर झांकते तक नहीं हैं और ऐसे दर्जन भर से ज़्यादा एग्रीगेटर्स पहले ही सेवाएं दे रहे हैं ।
इससे पता चलता है कि अक्सर लोगों के लिए ब्लागिंग कोई पवित्र मिशन नहीं है बल्कि 'एक नशा' है।
अगर आपने नशे के आदी इन ब्लागर्स के लिए उनके मनपसंद नशे का इंतज़ाम न किया तो आपके एग्रीगेटर के लिए ये ब्लागर मुग़ले आज़म के अकबर बन जाएंगे ।
आप सलीम की तरह उसे मरने नहीं देंगे और ये अकबर की तरह उसे जीने नहीं देंगे । दोस्ती में मजबूरन पंजीकरण चाहे करा लें कि अमीर आदमी है राज भाटिया , कहीं अपना चंदा देना ही बंद न कर दे , ऐसा सोचकर ।
आपको उनकी चाहतों को समझना होगा ।
इन लोगों की एक ख़्वाहिश यह भी है कि एक धर्म विशेष के ख़िलाफ़ ग़लतफ़हमियों को फैलाना राष्ट्रवाद कहा जाए और जो भी सही बात सामने लाए उसे मज़हबी लंगूर।
इसलिए उनका साथ आपको देना होगा न्याय और निष्पक्षता से ऊपर उठकर , तभी गुटबाज अपने लश्कर समेत आपका साथ दे पाएंगे।
नए साल के मौके पर मैंने दो ब्लाग नए बनाए हैं , आप और दीगर सभी लोग सादर आमंत्रित हैं -

http://pyarimaan.blogspot.com

http://commentsgarden.blogspot.com

शुभकामनाएं

Arvind Mishra said...

आपकी समस्या तो जहाँ थी वहीं है और मैं कुछ मदद कर नहीं सकता क्योकि तकनीकी मामलों की समझ बहुत कम है ....शुभकामना कि जल्द ही कोई हाथ बटायें यही शुभकामना है !

निर्मला कपिला said...

अपका प्रयास सफल हो इसके लिये शुभकामनायें। मेरे दो ब्लाग भी जोड लें
http://veerbahuti.blogspot.com/

http://veeranchalgatha.blogspot.com/

आपको व परिवार को नये साल की हार्दिक शुभकामनायें।

shikha varshney said...

hamara blog nahi dikha ...
shubhkamnaye.

राज भाटिय़ा said...

निर्मला जी आप के दोनो ब्लाग भी शामिल कर लिये हे, ओर शिखा जी आप का ब्लाग तो मैने दो दिन पहले ही शामिल कर लिया था, आप देखे **आप की नयी पोस्ट ३* वाली लाईन मे नीचे की तरफ़ जब आप की नयी पोस्ट आयेगी तो आप सब से ऊपर आ जायेगी, यानि जेसे जेसे नयी पोस्ट आती हे पहली पोस्ट धीरे धीरे नीचे जाती रहती हे. धन्यवाद

सुरेश शर्मा (कार्टूनिस्ट) http://sureshcartoonist.blogspot.com/ said...

http://sureshcartoonist.blogspot.com
ब्लाग भी जोड लें!

मनोज कुमार said...

आपका कार्य और आपकी भावनाएं नमन करने योग्य हैं। मैं आपके साथ हूं, तकनीकी जानकारी शून्य के बराबर है। याद है ना एक गाना लगाना था तो आपसे सीखा था।

मनोज कुमार said...

आपका कार्य और आपकी भावनाएं नमन करने योग्य हैं। मैं आपके साथ हूं, तकनीकी जानकारी शून्य के बराबर है। याद है ना एक गाना लगाना था तो आपसे सीखा था।

संजय ग्रोवर Sanjay Grover said...

तकनीकी समझ तो मेरी भी कामचलाउ ही है। पर मैंने देखा है कि हिंदी ब्लाॅगिंग में इसके विशेषज्ञ हैं और मदद भी करते हैं। शायद जल्दी ही कोई सामने आए।

'उदय' said...

... bahut badhiyaa ... shaandaar-jaandaar !!

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

राज जी,
हिन्दी ब्लाग जगत में एग्रीगेटर बनाने में आप का सब से अच्छा सहयोग पाबला जी कर सकते हैं। मैं उन से कह देखता हूँ।

कुमार राधारमण said...

एग्रीगेशन की दुनिया में आपका स्वागत है।
मैं तकनीकी आदमी नहीं हूं अन्यथा अवश्य सहयोग करता। पाबला जी समेत कई ब्लॉगर तकनीक के धनी हैं और सहयोग दे सकते हैं।
नववर्ष की शुभकामनाएं लीजिए। पुनः स्वागत।

दीप said...

राज जी आप का मंतव्य तो बहुत अच्छा है परन्तु, सार्थकता वहीँ है जहाँ स्वयं का ज्ञान सहायक हो,
बाकि शुभकामना दीपांकर पाण्डेय,
और हाँ आप को तथा पूरे ब्लोगर बंधुओं को नव वर्ष की बहुत - बहुत शुभ कामना

बी एस पाबला said...

द्विवेदी जी का संदेश मिला। लेकिन 'सब से अच्छा सहयोग पाबला जी कर सकते हैं' अतिश्योक्ति ही हो गई।

मेरा स्वतंत्र विचार है कि इन सब चीजों के लिए चारों तरफ प्रोफ़ेशनल वेब डेवलेपर मौज़ूद हैं। वे विशेषज्ञता भी रखते हैं। गंभीर प्रयासों के लिए ऐसों की सेवाएँ लेना ज़्यादा बेहतर है।

वैसे भी हिन्दुस्तान में कहा जाता है कि जान-पहचान वाले से काम करवाने से अंतत: नुकसान ही होता है।

वैसे राज जी, ये आपस की बात है कि आप मुझसे कोई जानकारी चाहते हैं तो बंदा हाज़िर है

सुज्ञ said...

राज जी,

हममें भी तकनिकि योग्यता तो नहिं है महाशय,
और पाबला जी इस विषय पर सहयोग के लिये हाजिर है।

अन्य कोई काम हो तो अवश्य कहें। सहयोग के लिये हम भी हाजिर रहेंगे।

Suman said...

http://loksangharsha.blogspot.com/

यशवन्त माथुर said...

आदरणीय सर,
नमस्ते
आपका प्रयास बहुत ही अच्छा है.
कृपया मेरा और मेरे पिताजी (क्योंकि उनके ब्लॉग का सम्पादन भी मैं ही करता हूँ इसलिए मैं उनकी और से भी निवेदन कर रहा हूँ) के निम्न URLs को शामिल करने की कृपा करें-

http://jomeramankahe.blogspot.com
http://krantiswar.blogspot.com
http://vidrohiswar.blogspot.com

सादर

बवाल said...

क्या बात है राज साहब ! बहुत ख़ूब !!
बहुत बड़ा दर्द कम कर दिया जी आपने यह काम करके। आपके इस प्यारे से एग्रीगेटर यज्ञ में हम भी आपके साथ हैं। याने के
www.lal-n-bavaal.blogspot.com

नए बरस की बहुत बहुत मुबारक़बादियाँ, आप, आपके परिवार और अहबाबों को।
जय हिन्द।

JHAROKHA said...

aadarniy raj ji
aapko is naye parivaar ka subha rambh karne -v-nav varshh par mera hardik abhinadan.
jaisa ki aapne agreegettar ke baare me kaha hai man uske liye apne shhrimaan ji ko kah sakti hun .
kyon ki vah vastav me ek behtareen lekhak v bachcho ke prasiddh bal sahitykar ke roop me apna ek vishist sthan rakhte hain.
aap mere blog par aakr( creative-kona ya fulbagiya)in par klik karenge to ti shrimaan ji ke blog par pahunch jayenge. vahan par aakar aaprubru hokar baat kar sakte hain .vaise bhi vo durdarshan me kary-rat hain aur in baato ki jankari unhe achhi tarah se hai.
(kyon ki apna faisala vo aapko khud bhi bata sakte hain.
punah shubh kamnao ke saath
poonam

MANOJ KUMAR said...

very nice. great work. wish you a happy and prosperous new year. thanks.

MANOJ KUMAR said...

आपकी सक्रियता हम सब के लिए प्रेरणादायी है. ब्लॉग परिवार से जुड़े सभी ब्लोगेर्स भाई बहनों को नया साल बहुत-बहुत मुबारक हो और उनकी रचनाशीलता को नए वर्ष में एक नया आयाम मिले. इसी शुभकामना के साथ- मनोज कुमार
http://mkhomevideo.blogspot.com

राज भाटिय़ा said...

आप लोग ब्लाग स्पोट पर ही कोई एग्रिगेट्र ढुढ्कर मुझे बतलाये वो भी चलेगा, आप सब का धन्यवाद

किलर झपाटा said...

वैरी गुड राज जी,
आय एम विथ यू सर।
मेरा ब्लाग भी शामिल करलें इस परिवार में प्लीज़।

http://killerjhapata.blogspot.com

आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

ZEAL said...

राज जी , ब्लॉग परिवार को बढ़ता हुआ देखकर अत्यंत हर्ष है। आपकी मेहनत अत्यंत सराहनीय है।

Sawai Singh Raj. said...

आदरणीय श्री राज भाटिय़ाजी,
नमस्कार
सबसे पहले नव वर्ष पर आपको बहुत बहुत शुभकामनाये! और मेरा ब्लॉग जोड़ने के लिए आपका ह्र्दय से बहुत बहुत धन्यवाद,

आपका प्रयास बहुत ही अच्छा है!

Sawai Singh Raj. said...

आदरणीय श्री राज भाटिय़ाजी,

आपका हमारे ब्लॉग'आज का आगरा'पर आपका स्वागत है। आपके विचार हमारे प्रेरणा स्त्रोत हैं अपने विचारों से हमें अवगत कराएं शुक्रिया.....

Sawai Singh Raj. said...

आदरणीय श्री राज भाटिय़ाजी,

आपका हमारे ब्लॉग'आज का आगरा'पर आपका स्वागत है। आपके विचार हमारे प्रेरणा स्त्रोत हैं अपने विचारों से हमें अवगत कराएं शुक्रिया.....

P S Bhakuni said...

नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं..... और नये साल में ये ब्लॉग परिवार खूब फले- फुले और आगे बढ़े .....
कृपया इस यूआरएल को भी जोड दें

http://pbhakuni.blogspot.com/

खुशदीप सहगल said...

राज जी,
नया साल मुबा्रक, कुछ व्यस्तता की वजह से ब्लॉग परिवार पर मेरी नज़र ही नहीं पड़ी...

इसका विजेट अपने ब्लॉग पर लगाने पर भी मेरी पोस्ट दिखाई नहीं दे रही...

मेरा यूआरएल है-
http://www.deshnama.com/

जय हिंद...

बंटी "द मास्टर स्ट्रोक" said...

भाटिया जी ,
आप का ये प्रयास बहुत पसंद आया, इस काम मे हम आपके साथ है हमे ब्लॉग टेम्पलेट बनाने की और वेबसाइट डेसीजनिंग की पूरी जानकारी है

कृपया मेरे ब्लॉग को इसमे शामिल करे
http://chorikablog.blogspot.com/

आज़ाद पुलिस Azad Police said...

कृपया यह ब्लॉग शामिल करने की कृपा करें
http://azadpolice.blogspot.com

Minakshi Pant said...
This comment has been removed by the author.
Minakshi Pant said...

राज भाटिया जी को हमारा नमस्कार , आप एक बहुत बड़े काम को अंजाम दे रहें हैं इसके लिए आपको हमारी तरफ से ढेरों शुभकामनायें दोस्त ! ये हमारा ब्लॉग है !
http://duniyarangili.blogspot.com/
thanx

Anupriya said...

Bhatiya sahab, aaj blog pariwar me mera pahala visit hai. bandana jee ka blog padh rahi thi,wahi se yahan ka link mila. kahne ko to main pichle 9 maheeno se bloging kar rahi hun par jyada jaankari nahi hai.
main swabhaw se thodi antrmukhi hun. bahot si baaten man men aati hain par sabse kah nahi paati.bachpan se kalam ko hi jariya banaya hai. kalam badi achchi mitr hoti hai.kah bhi deti hai awaj bhi nahi hoti par bhawna jahan pahuchni chahiye pahuch jati hai.
mere janne walon ne meri lekhni ki prasnsha karte hue mujhse wada liya hai ki main ise ek alag mukaam par le jaaun. unki umeed jyada hai par main koshish karna chahti hun.
isi umeed se ki aap mere blog ko bhi blog pariwaar men sthan denge, aapko apna URL bhej rahi hun
dhanyawaad.

http://anupriya-life.blogspot.com

shivank said...
This comment has been removed by the author.
shivank said...

aapko ko haardik badhhai is adbhud prayaaas ke liye ///mera blog shamil karen kripya.

http://shivankchaturvedi.blogspot.com

Harish singh, Mithilesh dubey said...

mere naye blog link ko jodne ka kasht karen ...............

www.upkhabar.in

शरदिंदु शेखर said...

मेरा ब्लॉग जोड़ लें...
http://24ghante.blogspot.com

Maheshwari kaneri said...

कृपया मेरे ब्लॉग को इसमे शामिल करे | धन्यवाद
http://kaneriabhivainjana.blogspot.com

Akshat said...

http://manishmishraa.blogspot.com/

Main Hoon Na .... said...

http://ikbaatmeredilki.blogspot.com/

भगीरथ said...

ब्लोग परिवार में इन ब्लोग को भी शामिल करें

http://gyansindhu.blogspot.com

http://atirikt.blogspot.com

http://palashrang.blogspot.com

भगीरथ

Ramniwas Sarswat said...

ramsarswat.blogspot.com

sir ji mene do bar url bhej diya hai
hame bhi jagah de plzzzzzzzzzzzzzzz

plzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzz
sirrrrrrrrrrrr jiiiiiiiiiiiiiiiii

Rs Diwraya said...

आपकी राय बहुत अच्छी लगनी ।मेरा ब्लॉग भी यहाँ शामिल करो।
"http://photo2rsd.blogspot.com/"

mohit dhama said...

कृपया यात्रा वृतांत को समर्पित मेरे ब्लॉग को इसमे शामिल करने की कृपा करे | धन्यवाद!
https://mohitdhama-jaat.blogspot.in

 
Minima 4 coloum Blogger Template by Beloon-Online.
Simplicity Edited by Ipiet's Template